ग्रामीण स्तरीय उद्यमियों के लिए उद्यम ज्योति के रूप में पंजीकरण करने का अवसर |UDYAM JYOTI MSME REGISTRATION FOR CSC PORTAL

CSC MSME लाखों का फ्री अनुदान – UDYAM JYOTI REGISTRATION अनिवार्य

लघु, छोटे एवं मध्यम उद्यम अधिकार पत्र

लघु, छोटे एवं मध्यम उद्यम अधिकार पत्र 
एम0 एस0 एमई0 ( लघु एवं मध्यम उद्यम) क्षेत्र में निम्नलिखित तीन प्रकार के उधारकर्ता आते हैं।

लघु उद्यम UDYAM JYOTI MSME REGISTRATION
वर्तमान परिभाषा के अनुसार लघु पैमाने के उद्योग वह औद्योगिक यूनिट हैं जिसके मामले में संयंत्र एवं मशीनरी में किये जाने वाला मूल निवेश निर्माण क्षेत्र में 25 लाख एवं सेवा क्षेत्र में, उपकरणों में निवेश रु0 10 लाख होता है।

UDYAM JYOTI MSME REGISTRATION छोटे उद्यम 
छोटे उद्यम वह औद्योगिक यूनिट हैं जिनके निर्माण क्षेत्र में संयंत्र एवं मशीनरी में किये जाने वाला मूल निवेश रु0 25 लाख से ऊपर तथा रु0 5 करोड़ तक तथा सेवा क्षेत्र में मूल उपकरणों में निवेश रु0 10 लाख से ऊपर तथा रु0 2 करोड़ तक होता है।

मध्यम उद्यम
मध्यम उद्यम वह औद्योगिक यूनिट हैं जिनके निर्माण क्षेत्र में संयंत्र एवं मशीनरी में किये जाने वाला मूल निवेश रु0 5 करोड़ से ऊपर तथा रु0 10 करोड़ तथा सेवा क्षेत्र में उपकरणों पर किये जाने वाला मूल निवेश रु0 2 करोड़ से ऊपर तथा रु0 5 करोड़ तक होता है।
इस चार्टर के माध्यम से लघु, छोटे एवं मध्यम उद्यम ग्राहकों को जो सुविधाएं उपलब्ध हैं पूर्णतया वर्णित हैं।

दिनांक मोहर लगाते हुये ऋण आवेदनों की प्राप्ति के लिये शाखा द्वारा पावती।
भारतीय बैंकिंग संघ के दिशा निर्देशों के तहत लघु, छोटे एवं मध्यम उद्यमों को रु0 2 करोड़ तक की ऋण सुविधा के लिये सरल ऋण आवेदन प्रपत्रों की शुरुआत की गयी है।

ऋण आवेदनों को निपटाने के लिये समय मानदंड UDYAM JYOTI MSME REGISTRATION

  • रु0 25, 000 तक – 2 सप्ताह
  • रु0 25, 000 से अधिक और रु0 5 लाख तक – 4 सप्ताह
  • रु0 5 लाख से अधिक – 8 से 9 सप्ताह

भारतीय रिजर्व बैंक के दिशा निर्देशों के अनुसार रु0 10 लाख तक के ऋण जो लघु उद्योग ऋण गारंटी निधि योजना के अन्तर्गत आते हैं कोई संपाश्र्विक प्रतिभूति की आवश्यकता नहीं है। अच्छे पूर्ववृत और जो ऋण लघु एवं मध्यम उद्योग ऋण गारन्टी योजना के अन्तर्गत आते है तथा वित्तीय स्थिति युक्त उधारकर्ताओं के मामलों में एक करोड़ तक के अग्रिमों के लिये संपाश्र्विक प्रतिभूति की आवश्यकता नहीं है। लघु उद्योगों के लिये सिंगल विंडो योजना के अन्तर्गत रु0 100 लाख तक के सम्मिश्र ऋण मंजूर किये जाते हैं।

ऋण की मात्रा UDYAM JYOTI MSME REGISTRATION
कार्यषील पूंजी की आवश्यकता के लिये प्रक्षेपित वार्षिक बिक्री का कम से कम 20 प्रतिशत (नायक समिति मानदंडों के अनुसार)

सीएससी ई गवर्नेंस सर्विस इंडिया लिमिटेड और डीसी के कार्यालय, UDYAM ने निम्नलिखित के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं: UDYAM JYOTI MSME REGISTRATION

  1. UDYAM  और संभावित उद्यमों को एंटरप्राइज़ सुविधा सेवाएं प्रदान करना
  2. UDYAM की डेटाबेस ।

12gamechanger|

 UDYAM JYOTI MSME REGISTRATION उद्यम ज्योति के रूप में संभावित UDYAM बनने में दिलचस्पी रखने वाले वीएलई खुद को डिजिटल सेवा पोर्टल पर TYPE UDYAM के माध्यम से नामांकित कर सकते हैं और सेवा के लिए केवल 4 रुपये ( पैसा वापसी) का भुगतान करके पंजीकरण कर सकते हैं । ( पैसा वापसी)।
आपसभी MSME के बारे मे और अधिक जानकारी चाहते है तो नीचे दिये गये COMMENT BOX मे COMMENT करे |

Leave a Comment

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime