जेनेवा संधि (Geneva Convention) क्या है ? | Gadgets Updates Hindi

जेनेवा संधि (Geneva Convention) क्या है ? | Gadgets Updates Hindi

युद्ध में घायल युद्ध बन्दियों और आम नागरिकों की रक्षा के लिए स्विट्ज़रलैंड के जेनेवा शहर में एक अंतर्राष्ट्रीय सम्मलेन किया गया था| इस सम्मलेन में युद्ध बन्दियों के मानवीय मूल्यों के विषय में अंतर्राष्ट्रीय कानून बनाये गए | इस संधि में 194 देशों ने हस्ताक्षर किया था | जेनेवा स्विट्ज़रलैंड का दूसरा सबसे बड़ा शहर है, यह फ्रांस की सीमा से लगा हुआ शहर है, यहाँ की राजभाषा फ्रांसीसी है | इस पेज पर जेनेवा संधि कब हुई तथा संधि में युद्ध बन्दियों के अधिकार के विषय में विस्तार से बताया जा रहा है |

जेनेवा संधि

जेनेवा संधि (Geneva Convention)

  • जेनेवा समझौते में कई नियम और क़ानून दिए गए है, जिसका उद्देश्य युद्ध के समय मानवीय मूल्यों को बनाये रखना है, विश्व में मानवता को बरकारार रखने के लिए वर्ष 1964 में पहली संधि की गयी थी,  दूसरी संधि 1906 में तथा तीसरी संधि 1929 में की गयी थी | द्वितीय विश्व युद्ध के बाद 194 देशों ने मिल कर चौथी संधि की थी | इंटरनेशनल कमेटी ऑफ़ रेड क्रॉस के अनुसार जेनेवा समझौते में युद्ध के दौरान गिरफ्तार सैनिको और घायल लोगों के साथ कैसा बर्ताव करना है, इसको लेकर दिशा- निर्देश दिए गए है | इसमें यह बताया गया है, कि युद्ध बंदियों के क्या अधिकार है ? साथ ही समझौते में घायल की उचित देख-भाल और आम लोगों की बात की गयी है.

ये भी पढ़े:

जेनेवा समझौते से जुड़े महत्वपूर्ण बिंदु (Important Points Related  To Geneva Convention)

  • इस संधि के द्वारा घायल सैनिकों की उचित देखभाल की जाती है |
  • संधि के अनुसार उन्हें खाना- पीना और जरुरत की सभी चीजे दी जाती है |
  • इस संधि के अनुसार किसी भी युद्ध बंदी के साथ अमानवीय व्यवहार नहीं किया जा सकता है |
  • किसी भी देश का सैनिक जैसे ही पकड़ा जाता है, उस पर यह संधि लागू होती है |
  • संधि के मुताबिक युद्धबंदी को डराया- धमकाया नहीं जा सकता है |
  • युद्धबंदी की जाति, धर्म, जन्म आदि के बारे में नहीं पूछा जा सकता है |

यहाँ पर हमनें आपको जेनेवा संधि के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

Leave a Comment

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime