पीएफ का पैसा कैसे निकालें। Online EPF Withdrawal Process in Hindi 2019 | PF क्‍लेम करने के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

पीएफ का पैसा कैसे निकालें। Online EPF Withdrawal Process in Hindi 2019 | PF क्‍लेम करने के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

एंप्लॉयी प्रॉविडेंट फंड (EPF) ऑर्गेनाइजेशन सरकारी और प्राइवेट नौकरी करने वालों के लिए बनाया गया है। नौकरीपेशा लोगों के लिए अपनी बंधी-बंधाई सैलरी में बचत कर पाना आसान नहीं होता है। इसी बात को समझते हुए ईपीएफओ बनाया गया, जिसमें नौकरीपेशा लोगों की सैलरी में से PF का पैसा काटा जाता है। इस पैसे को अकाउंट में जमा किया जाता है जिसे पीएफ अकाउंट कहते हैं।

Online EPF Withdrawal Process in Hindi 2019

pf withdraw१११

PF withdrawal अब बस कुछ घंटे की बात रह गई है। EPF withdrawal Process के online होने से आपकी ढेरों मुश्किलें एक झटके में खत्म हो गई हैं। दरअसल PF का पैसा निकालने में एक लंबा time लगता रहा है। कभी कभी तो यह process महीने भर से ज्यादा या कई months लंबी हो जाती रही है।

लेकिन, अब ऐसा नहीं है। government ने आपके पीएफ का पैसा आपको online उपलब्ध कराने की सुविधा शुरू कर दी है। इसके लिए ऑनलाइन EPF Withdrawal Form जारी किया गया है। आप सिर्फ अपना Aadhar नंबर अपने UAN से लिंक करवाकर पीएफ संबंधी कोई भी facility घर बैठे प्राप्त कर सकते हैं। इसके माध्यम से ना सिर्फ आप आप अपना पूरा EPF या आंशिक EPF advance निकाल सकते हैं। बल्कि EPF pension सुविधा भी खुद ही जारी कर सकते हैं। ये सारी सुविधाएं आपको UAN Member Portal के माध्यम से मिलेंगी। आप या कोई भी EPF मेंबर इस नयी facility का लाभ कैसे उठा सकता है। तो online EPF withdrawal के Steps पर जाएं उससे पहले आप पीएफ निकालने के नियम भी जान लेंगे तो अच्छा रहेगा।

ऑनलाइन पीएफ फॉर्म के फायदे -ईपीएफ निकालने की ऑनलाइन प्रक्रिया
Benefits Of Online PF Withdrawal Form

  • ऑनलाइन EPF withdrawal की सुविधा आपको अपने employer या EPFO  Office के चक्कर लगाने से बचाती है। क्योंकि अब आपको अपने पैसे निकालने के लिए employer के sign की जरूरत नहीं है। आप घर बैठे अपने EPF Account से पैसा निकाल सकते हैं। सिर्फ अपना ऑनलाइन EPF withdrawal Form भरिए और पैसा निकाल लीजिए।
  • पूरी प्रक्रिया में HR Department या पीएफ ऑफीसर के नखरे नहीं झेलने पड़ेंगे। यानी, आपको किसी Manual दखलंदाजी से नहीं गुजरना होगा। इस प्रकार आपका employer या रीजनल PF officer किसी प्रकार की मनमानी करके आपको परेशान नहीं कर सकते।
  • ऑनलाइन PF withdrawal form पर होने वाली प्रक्रिया पूरी की पूरी digital होती है। इस कारण आप अपने आप ही अपनी identity प्रमाणित करके सारी सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।
  • ऑनलाइन पीएफ निकालने की process में महज कुछ hours लगते हैं, जो ऑफलाइन process में कई दिनों और बहुत से झंझटों से गुजरने के बाद हो पाती थी। अब आप कुछ steps में मांगी गयी सूचनाएं fill करके पूरा या आंशिक रूप से पैसा निकाल सकते हैं।

ऑनलाइन पीएफ क्लेम के प्रकार
Type of PF claims for online withdrawal

ऑनलाइन पीएफ निकालने की सुविधा किसी भी प्रकार के withdrawal के लिए उपलब्ध है, जैसे

  • सर्विस छोड़ने के बाद final settlement  के लिए
  • सर्विस के दौरान Partial PF निकालने के लिए
  • Retirement के बाद pension पाने के लिए
  • इन तीनों प्रकार के claim के अलावा भी पीएफ से जुड़े सभी तरह के क्लेम आपको online ही प्राप्त हो सकते हैं।

इन सभी प्रकार के claim में आप बिना कोई कागजी document जमा किए अपना पीएफ का पैसा प्राप्त कर सकते हैं। यहां तक कि एक company से दूसरी कंपनी बदलने के बाद आप खुद ही अपना EPF transfer भी कर सकते हैं। वैसे ऑनलाइन EPF transfer की सुविधा वर्ष 2014 से ही शुरू हो चुकी है।

आपको सिर्फ उसी स्थिति में अपने Employer के पास जाने की जरूरत पड़ती है, जबकि आपके PF member detail  में कोई change या गलती सुधार होना हो। वैसे अब EPFO नए EPF मेंबर के नामांकन के लिए Aadhaar Database का उपयोग करने लगा है। इससे नाम और birth-date जैसी गलतियों को खत्म या minimum करने में मदद मिली है।

ऑनलाइन पीएफ निकालने के स्टेप्स
Steps For Online PF withdrawal

ऑनलाइन EPF निकालना बहुत ही आसान है। बिल्कुल netbanking जैसा। कम्प्यूटर या स्मार्टफोन खोलिए, UAN Portal पर जाइए, मांगी गई information को भरिए और कुछ ही देर में आपका पैसा आपके bank account में होगा। ऑनलाइन फॉर्म भरने की ये पूरी process कुछ steps  में पूरी हो जाती है।

Step 1

UAN Portal को खोलिए। यूएएन संबंधी सभी प्रकार की services के लिए आप इस portal का प्रयोग कर सकते हैं। इसका URL है https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/

Step 2

अपने UAN Number और पासवर्ड का प्रयोग करके login करिए। अगर आप password भूल गए हैं तो कोई बात नहीं, इसे दोबारा से बना सकते हैं। यूएएन एकाउंट में registered आपके मोबाइल नंबर पर भेजे गए ओटीपी नंबर की मदद से पासवर्ड दोबारा से सेट किया जा सकता है।

Step 3

अपना KYC Status चेक करिए। सुनिश्चत करें कि आपका Aadhaar नंबर UAN से linked है कि नहीं। KYC स्टेटस चेक करने के लिए portal में आपको Manage ऑप्शन पर click करके इसके अंदर आने वाले KYC ऑप्शन पर click करना है। यहां देखिए कि क्या आपके KYC documents में आधार नंबर जुड़ा है। अगर हां तो आगे बढ़िए। अगर नही, तो सबसे पहले यूएएन के साथ आधार नंबर लिंक करवा लें। Aadhar link करवाने की प्रक्रिया में आपको UIDAI के साथ अपने आधार संबंधी credentials  साझा करने की सहमति देनी जरूरी है।

यहां यह ध्यान रखिए कि आप अपना आधार यूएएन से लिंक स्वयं तो कर सकते हैं, लेकिन उसको अंतिम रूप से मंजूरी employer द्वारा ही दी जाएगी। एक बार यह process पूरी होने के बाद सारी सेवाएं बस कुछ click के साथ आपके हाथों में होंगी।

Step 4

यूएएन के Dashboard पर क्लिक करिए। इसमें आपको एक ‘Online services‘ ऑप्शन मिलेगा। यहां आपको EPF क्लेम करने, KYC डिटेल्स जानने, नामिनी चेंज करने आदि के ऑप्शन मिलेंगे। अपनी जरूरत के मुताबिक option चुनिए और आगे बढिए। यहां से आप अपना UAN Card भी download कर सकते हैं। अपनी service history भी यहां आप देख सकते हैं।

Step 5

Claim ऑप्शन पर क्लिक करें (Form-31, 19 and 10C)’.

Step 6

इस step में आपको अपना आधार नंबर प्रमाणित करना होगा। portal से आपके यूएएन में दर्ज mobile nmber पर एक OTP भेजा जाएगा। इस ओटीपी को सबमिट करके आप EPF withdrawal claim form  भर सकते हैं। फॉर्म भरने के बाद आप इसकी claim confirmation copy भी PDF format में प्राप्त कर सकते हैं। ये कॉपी आप अपने पास जरूर रख लें। PF settellement में आगे किसी समस्या होने पर यह प्रमाण के रूप में काम आएगी।

आखिर में,एक जानकारी और। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ‘EPFO’ ने पीएफ निकासी, पेंशन और बीमा जैसे claim के निपटारे के लिए समय सीमा अब महज 10 दिन कर दी है। इसके पहले EPFO ने जुलाई 2015 में ऐसे claim के निपटारे की समयसीमा 20 दिन कर दी थी। मतलब यह कि अगर आप online claim करते हैं तो सिर्फ 3 घंटे में और offline claim करते हैं तो 10 दिन के अंदर आपके पीएफ का पैसा आपके bank  account में पहुंच जाएगा। और हां, इन दावों पर कोई समस्या होने पर या complain के निपटारे की समयसीमा भी घटाकर 15 दिन कर दी गई है।

Leave a Comment

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime