Budget 2019 : आयुष्मान भारत पर होगा सरकार का फोकस, दायरा बढ़ा सकती है सरकार

Budget 2018 में की गई थी Ayushman Bharat की घोषणा, अब तक 7 लाख लोगों का मुफ्त इलाज

Budget 2019 में मोदी सरकार की फ्लैगशिप योजना आयुष्मान भारत (Ayushman Bharat ) योजना पर खास फोकस होगा। अब तक लगभग 7 लाख लोग इस स्कीम का फायदा उठा चुके हैं। सरकार आयुष्मान भारत का बजट बढ़ा कर ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस स्कीम का लाभ देने की घोषणा कर सकती है।

जेटली ने की थी स्कीम की घोषणा 

1 फरवरी 2018 को बजट 2018 की घोषणा करते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा था कि हम नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन स्कीम लॉन्च करेंगे, जिसमें देश के 10 करोड़ परिवारों को शामिल किया जाएगा और उनके परिवार के 50 करोड़ सदस्यों को हर साल 5 लाख रुपए का मुफ्त इलाज कराने का इंतजाम किया जाएगा। जेटली ने इसे दुनिया का सबसे बड़ा सरकारी वित पोषित हेल्थ केयर प्रोग्राम बताया था।

0521 ayushman bharat scheme

आयुष्मान भारत पर फोकस होगा 

स्वास्थ्य मंत्रालय से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, इस बजट में आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के लिए अलग से भारी फंड की व्यवस्था की जाएगी, ताकि अधिक से अधिक लोगों को इस स्कीम का फायदा उठाया जा सके। अभी कई राज्यों में प्राइवेट अस्पताल इस स्कीम से जुड़ नहीं पाए हैं। ऐसे राज्यों के लिए विशेष घोषणाएं की जा सकती हैं। पिछले बजट में सरकार ने इसके लिए 1,200 करोड़ आवंटित किए गए थे। जानकारों का मानना है कि इस बार यह राशि 20 फीसदी तक बढ़ सकती है।

7 लाख को फायदा 

वहीं, आज केंद्रीय न्याय एवं विधि मंत्री प्रसाद यहां अपने आवास पर आयुष्मान भारत योजना के कई लाभार्थियों से मुलाकात की। उन्होंने इस दौरान कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस प्रयास से 50 करोड़ से अधिक गरीबों को इस योजना के तहत पांच लाख रुपये तक का अस्पताल का इलाज प्रतिवर्ष मुफ्त मिलेगा। उन्होंने कहा, “इस योजना के शुरू हुए अभी 100 दिन से थोड़ा अधिक समय हुआ है और सात लाख से अधिक गरीबों को मुफ्त में इलाज दिया जा चुका है।

पीएम का आभार जताया 

इस मौके पर कई लाभार्थियों ने अपने इलाज के अनुभव बताए। मंत्री से मुलाकात करने पहुंचे लाभार्थियों ने प्रधानमंत्री को धन्यवाद कहा। मंत्री प्रसाद ने इस मौके पर कई लाभार्थियों को आयुष्मान भारत का गोल्डन कॉर्ड भी बांटा। प्रसाद ने इस योजना के लिए चलाए जा रहे कॉमन सर्विस सेंटर के संचालकों से भी मुलाकात की और उनके कामों की सराहना की। प्रसाद ने सभी सर्विस सेंटर संचालकों से आयुष्मान योजना के बारे में गरीब परिवारों को जानकारी देने और उन्हें गोल्डन कॉर्ड देने की अपील की।

Leave a Comment

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime