फर्जी तरीके से आधार कार्ड बनाकर राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डाल रहे गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार

पुलिस ने गिरफ्तार किए गए आरोपियों के पास से करीब 50 आधार कार्ड, 35,000 रुपये नकद तथा आधार कार्ड बनाने में इस्तेमाल होने वाली मशीन बरामद की है.

पिछले दिनों आधार डेटा में सेंध, बायोमैट्रिक्स डेटा के दुरुपयोग और निजी जानकारी में सेंध की ख़बरें आई थीं. तब यूआईडीएआई (UIDAI) ने कहा था कि उसके आधार के यूआईडीएआई डेटाबेस में कोई सेंध नहीं लगी है और यूआईडीएआई के पास लोगों का व्यक्तिगत डेटा बिल्कुल सुरक्षित है. लेकिन ग्रेटर नोएडा पुलिस ने फर्जी तरीके से आधार कार्ड बनाने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ कर सात लोगों को गिरफ्तार किया है  |

जो अधिकृत आइडी का प्लास्टिक का अंगूठा बनाकर पूरे फर्जीवाड़े को अंजाम दे रहे थे. पुलिस ने गिरफ्तार किए गए आरोपियों के पास से करीब 50 आधार कार्ड, 35,000 रुपये नकद तथा आधार कार्ड बनाने में इस्तेमाल होने वाली मशीन बरामद की है. गिरफ्तार किए गए आरोपी ब्रजेश कुमार शर्मा, कन्छीलाल शर्मा, सागर, रहीश अहमद, राहुल, जबर सिंह, मुनेन्द्र पर आरोप है कि फर्जी तरीके से आधार कार्ड बनाकर, राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डाल रहे थे. आरोपी लंबे समय से फर्जीवाड़ा कर रहे थे.|

5b08aki fake aadhaar racket busted

हरियाणा के रहने वाला आरोपी राहुल इस फर्जीवाड़े का मास्टरमाइंड है और उसके नाम से बनी अधिकृत आइडी का प्रयोग फर्जीवाड़े में किया जा रहा था. राहुल एक दिन के सात हजार रुपये लेता था. प्लास्टिक का अंगूठा बनाकर पूरे फर्जीवाड़े को अंजाम दिया जा रहा था. एक महीने में आरोपित चार लाख की कमाई करते थे.

नोएडा के एसपी रणविजय सिंह ने बताया, ‘मुख्य आरोपी राहुल की अधिकृत आइडी पर दर्ज अंगूठे के निशान का प्लास्टिक अंगूठा आरोपितों ने बना लिया था. आरोपित यूटीडीएआई डॉट इन की वेबसाइट UIDAI.GOV.IN खोलकर उसे कैम्प मोड में डालकर तथा उस क्षेत्र का देशान्तर व अक्षांश डालकर आधार कार्ड व पैन कार्ड बनाता था. चूंकि देशान्तर व अक्षांश रेखाएं यूआईडीएआई से तुरन्त चेक नहीं की जाती थीं उसी का यह गिरोह फायदा उठाकर फर्जी आधार कार्ड बनाकर राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे मे डालता था.

एसपी ने बताया कि सूरजपुर कोतवाली पुलिस को फर्जी आधार व पैन कार्ड बनाने के संबंध में सूचना मिली थी. सूचना के आधार पर सूरजपुर कोतवाली प्रभारी और क्राइम टीम प्रभारी ने टीम के साथ छापेमारी की. छापेमारी के दौरान आरोपी मलकपुर में बने एक बैंक के पीछे कमरे में आधार कार्ड बनाते हुए मिले. कमरे के बाहर आधार कार्ड व पैन कार्ड बनवाने वाले लोगों की लाइन लगी हुई थी. पुलिस जांच में पता चला कि फर्जी तरह से आधार व पैन कार्ड बनवाए जा रहे थे.

मौके से पुलिस ने सात आरोपियों को गिरफ्तार किया. इनके कब्जे से 50 प्लास्टिक के आधार कार्ड, 25 आधार कार्ड लेमिनेशन, 20 आधार बनवाने वाले फार्म, 18 पर्ची, 16 पैन कार्ड, 21 फर्जी फार्म (खाली), दो प्लास्टिक के अंगूठे, पांच एडाप्टर, दो माउस, दो प्रिंटर, पांच लैपटॉप, दो फिंगर मशीन, दो लैंप, एक की बोर्ड, एक क्रास मैंच, दो स्कैनर और 34700 नकद बरामद किए गए हैं.

 

Leave a Comment

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime