How to get Ayushman Bharat Scheme, whose name is not named Benefits | आयुष्मान भारत योजना जिनके नाम नहीं है उन्हें कैसे मिलेगा लाभ

How to get Ayushman Bharat Scheme, whose name is not named Benefits | आयुष्मान भारत योजना जिनके नाम नहीं है उन्हें कैसे मिलेगा लाभ

The country’s largest health plan, Ayushman Bharat Scheme which is applicable throughout India, has many beneficiaries who do not have names, so how will they get this benefit in the list. In this information, I am going to give myself to the people through this article especially in Uttar Pradesh For those who are temporary residents.

CSC EXAM PDF
whatsapp

yogi pti 0

देश की सबसे बड़ी हेल्थ योजना आयुष्मान भारत योजना जो कि पूरे भारत में लागू है इसमें कई ऐसे लाभार्थी हैं जिनके नाम नहीं है सूची में तो उनको यह लाभ कैसे मिलेगा यह जानकारी में इस आर्टिकल के माध्यम से अपनों को देने वाला हूं खासकर के उत्तर प्रदेश के जो अस्थाई निवासी हैं उनके लिए

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को यूपी के इतिहास का सबसे बड़ा बजट पेश करते हुए चुनावी साल में सबको साधने की कोशिश की इसी बजट के अंतर्गत यूपी के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने 4.79 लाख करोड़ का बजट पेश किया पिछले बार के मुकाबले का बजट 12% अधिक है इसी बजट  के अंतर्गत उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश में 10 लाख 10 हजार और लोगों को आयुष्मान भारत के दायरे में लाया जाएगा। मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत यूपी सरकार ने 111 करोड़ रुपये का बजट तय किया।

Jan Arogya Yojana

Jan Arogya Yojana- ऐसे लाभार्थी जो कि उत्तर प्रदेश के अस्थाई निवासी हैं जिनके नाम आयुष्मान भारत योजना के तहत नहीं है उनको अब यूपी सरकार अपने और से इस योजना का लाभ देगी अगर आप भी पात्र हैं तो आपको भी इस योजना का लाभ मिलेगा इसके लिए आपको थोड़ा सा सब्र करना होगा जैसे ही इस सूचना को शुरू किया जाएगा तो आपको भी इस योजना का लाभ मिल जाएगा जैसे कि बजट में बताया गया है

ayushman bharta12

telegram

Going apart, what else is in the budget? 2019- जाने इसके अलावा और क्या-क्या बजट में है खास

1. पिछले बजट के मुकाबले 12 प्रतिशत अधिक है यह बजट। 
2. उत्तर प्रदेश में 10 लाख 10 हजार और लोगों को आयुष्मान भारत के दायरे में लाया जाएगा। मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत यूपी सरकार ने 111 करोड़ रुपये का बजट तय किया।
3. गांवों में गोवंश के रख-रखाव पर 247 करोड़ और शहरों में कान्हा गोशाला के लिए 200 करोड़ रुपये।
4. सहकारी क्षेत्र की बंद चीनी मिलों के लिए 50 करोड़ रुपये और पीपीपी मोड पर चलाने के लिए 25 करोड़ रुपये।
5. पुलिसकर्मियों के बैरक के लिए 700 करोड़। टाइप ए, बी के लिए 700 करोड़। पुलिस की 7 लाइनों के लिए 400 करोड़, 57 फायर स्टेशन पर भवनों केलिए 200 करोड़, आधुनिकीकरण के लिए 204 करोड़।
6. बस सेवा से वंचित 14,561 गांव जोड़े जाएंगे।
7. 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए बजट में सरकार व्यवस्था करेगी। इसके तहत आधुनिक तरीके से कृषि को बढ़ावा देने पर जोर होगा।
8. राजकीय इंटर कॉलेज की स्थापना के लिए 10 करोड़।
9. कन्या सुमंगलम योजना के लिए 1200 करोड़।
10. प्रादेशिक विमान के लिए 150 करोड़।

11. अनुसूचित छात्रों को 2307 करोड़।
12. निराश्रित विधवाओं को 1410 करोड़।
13. बुंदेलखंड के लिए बुंदेलखंड विकास बोर्ड के गठन का ऐलान किया गया। इसी तरह पूर्वांचल विकास बोर्ड के गठन का भी ऐलान।
14. कुशीनगर के साथ गौतमबुद्धनगर का एयरपोर्ट भी जल्द ऑपरेशनल होगा।
15. अयोध्या एयरपोर्ट के लिए 200 करोड़ का बजट।
16. मेट्रो: वाराणसी, मेरठ, गोरखपुर, प्रयागराज और झांसी मेट्रो के लिए 150 करोड़, वहीं कानपुर और आगरा मेट्रो के लिए 175-175 करोड़ का बजट।
17. पुष्टाहार के लिए 404 करोड़ रुपये।
18. प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के लिए 6,240 करोड़ रुपये।
19. स्वास्थ्य पर बड़ा ऐलानः कैंसर संस्थान लखनऊ के लिए 248 करोड़ रुपये का ऐलान। लखनऊ में अटल बिहारी चिकित्सा विश्वविद्यालय के लिए 50 करोड़ रुपये। उत्तर प्रदेश में आयुष विश्वविद्यालय खुलेगा। बजट में 10 करोड़ रुपये का ऐलान किया गया।
20. राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना: 3,488 करोड़ रुपये, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना: 2,954 करोड़ रुपये, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन: 1,393 करोड़ रुपये, मुख्यमंत्री आवास योजना-ग्रामीण: 429 करोड़ रुपये, श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन: 224 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित।

Leave a Comment