Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019: प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना की पूरी जानकारी एक क्लिक में

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019

Pradhan Mantri Pension Yojana: प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना की पूरी जानकारी एक क्लिक में

Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan: प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना में ब्याज की दर अटल पेंशन योजना से ज्यादा हो सकती है। जानिए इस योजना से जुड़ी हर बात।

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019 प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन पेंशन योजना की शुरुआत 15 फरवरी से हो रही है, जिसकी ब्याज दर करीब 8 फीसदी हो सकती है। यह पेंशन योजना असंगठित क्षेत्र के कामगारों के लिए है, जिसकी ब्याज दर को संगठित क्षेत्र के पेंशन फंड के ब्याज 8.55 फीसदी के करीब रखा जाएगा।

shramyogi 1

बीमा नियामक आईआरडीएआई ने हालांकि अभी तक इसके परिचालन के पहले साल के ब्याज दर की घोषणा नहीं की है। यह योजना लाइफ कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (एलआईसी) द्वारा चलाई जाएगी। Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019.>इसी प्रकार की दूसरी पेंशन योजना, अटल पेंशन योजना (एपीवाई) की ब्याज दर करीब 7.5 फीसदी है। लेकिन, पीएमएसवाईएम को अधिक आकर्षक बनाने के लिए इसके ब्याज दर को संगठित क्षेत्र के पेंशन फंड की दर के आसपास रखा जाएगा। सरकार के एक सूत्र ने यह जानकारी दी और साथ ही कहा कि आईआरडीएआई ही इस दर को तय करेगा।

अधिकारी ने बताया कि अगर इसकी ब्याज दर उच्च होती है तो लोग इस योजना की तरफ आकर्षित होंगे क्योंकि वे देखेंगे कि सरकार भी इसमें बराबर का योगदान कर रही है और ब्याज दर भी अधिक है। उन्होंने कहा कि गरीबों को इस योजना के फायदों के बारे में अच्छी तरह से जानकारी देनी होगी, नहीं तो इस योजना का हश्र भी एपीवाई की तरह होगा।

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019 ->उन्होंने कहा कि यहां इसमें एलआईसी की बड़ी भूमिका होगी। अधिकारियों का कहना है कि इस योजना पहले साल में कितनी सफल होती है, इस पर ध्यान दिया जाएगा और उसी हिसाब से आगे इसमें सुधार किया जाएगा।

जहां तक फायदे का सवाल है तो पीएमएसवाईएम, अटल पेंशन योजना का बेहतर संस्करण है, जिसे 2015 में लांच किया गया था। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, अटल पेंशन योजना के 1.05 करोड़ ग्राहक हैं, जबकि इसका 2015 के अंत तक लक्ष्य 2 करोड़ ग्राहक जोड़ने का रखा गया था। वहीं, 2011 की जनगणना के मुताबिक देश के असंगठित क्षेत्र में 42 करोड़ लोग काम करते हैं।

Consider linking to these articles

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019 पीएमएसवाईएम में कोई व्यक्ति 60 साल की उम्र तक निश्चित मासिक रकम योगदान करेगा और उतनी रकम उसकी तरफ से सरकार इस योजना में लगाएगी और 60 साल बाद उस व्यक्ति को जीवन पर्यन्त 3,000 रुपए की मासिक पेंशन मिलेगी।

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019 इस योजना को ईपीएफ योजना की तरह ही बनाया गया है, जो कि संगठित क्षेत्र के लिए है। इसमें कर्मचारी अपने मूल वेतन का 12 फीसदी योगदान करता है तथा उतनी ही रकम उसके नियोक्ता के तरफ से ईपीएफ में जमा की जाती है।

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019 पीएमएसवाईएम में 40 से अधिक के उम्र के व्यक्ति भाग नहीं ले सकते हैं। इस योजना की घोषणा अंतरिम बजट में की गई थी, जो अंसगठित क्षेत्र के 15,000 रुपए प्रति माह कमाने वाले कामगारों के लिए है ताकि 60 साल की उम्र के बाद वे 3,000 रुपए की मासिक पेंशन प्राप्त कर सकें। Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019

Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan Pension Yojana 2019 इस योजना में 18 से 40 साल तक के कामगार शामिल हो सकते हैं। सरकार का लक्ष्य इस योजना से असंगठित क्षेत्र के 10 करोड़ कामगारों को जोड़ना है। मासिक योगदान की रकम उम्र के आधार पर तय होगी और उसमें 60 साल की उम्र तक योगदान करना होगा।

Leave a Comment

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime