rahat package ka elaan कडाउन के बीच सरकार का इकोनॉमी बूस्टर डोज, 1.70 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान

rahat package ka elaan कडाउन के बीच सरकार का इकोनॉमी बूस्टर डोज, 1.70 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान

दोस्तों कोरोना वायरस की वजह से दुनिया भर में कोहराम मचा है ! वही इंडिया का भी हाल बहुत ही बुरा हुआ है ! इसी को देखते हुए वित्त मंत्री सीतारमण ने भारत वासियों को एक राहत पैकेज का ऐलान किया है ! इस राहत पैकेज में किसान ,मजदूर ,महिला ,बुजुर्ग ,पेंशन धारी सभी को शामिल किया गया है ! इस राहत पैकेज (rahat package ka elaan) में कल्याण योजना के तहत गरीबों को 1.70 लाख करोड़ की मदद की जाएगी यह मदद गरीब वर्ग के लोगों के लिए है !

 पैकेज (rahat package ka elaan) में कुछ मुख्य ऐलान किए गए

  1. अपने देश में लगभग 3.5 करोड़ निर्माण वर्कर्स हैं ! उनको सहायता पहुंचाने के लिए सरकार ने 31 हजार करोड़ रात पैकेज का ऐलान किया है !

  2. पीएफ स्कीम रेगुलेशन में बदलाव कर नॉन रिफंडेबल एडवांस 75 फीसदी जमा रकम या तीन महीने के वेतन केनिकालने की सुविधा दी जाएगी ! 100 तक कर्मचारियों वाले संगठन जिनके 90 फीसदी का हिस्सा 15 हजार से कम वेतन वाले हों ! 80 लाख कर्मचारियों को और 4 लाख प्रतिष्ठानों को फायदा मिलेगा !

26 03 2020 nirmala sitaraman 20141690 151813923 1

  • कोरोनावायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशभर में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया था
  • 24 मार्च को भी वित्त मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी, 3 महीने तक किसी भी एटीएम से पैसे निकालने पर कोई चार्ज नहीं देने का ऐलान किया था.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। कोरोना संकट से निकलने के लिए वित्त मंत्री ने एक लाख 70 हजार करोड़ रुपए के राहत पैकेज का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि सरकार किसी गरीब को भूखा सोने नहीं देगी। कोरोनावायरस संक्रमण फैलने से रोकने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देशभर में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया था। इससे जनजीवन और आर्थिक गतिविधियां ठहर गई हैं।

वित्त मंत्री के ऐलान

  • लॉकडाउन से प्रभावित गरीबों की मदद की जाएगी। जिन लोगों को तुरंत मदद की जरूरत है, उन्हें राहत दी जाएगी। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लाई जाएगी।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत 80 करोड़ गरीब लोगों को 3 महीने तक 5 किलो गेहूं या 5 किलो चावल अतिरिक्त दिया जाएगा। इसके अलावा एक किलो दाल भी दी जाएगी।
  • यह खाद्य सामग्री राशन के अलावा होगी, यह फ्री दी जाएगी। किसानों के खाते में 2000 रु. की किश्त अप्रैल के पहले हफ्ते में डाल दी जाएगी, इससे 8.69 करोड़ किसानों को फायदा मिलेगा।

24 मार्च को भी सीतारमण ने कई घोषणाएं की थी

इससे पहले मंगलवार को सीतारमण ने मंत्रालय के अफसरों के साथ मौजूदा हालात पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा था कि अगले तीन महीने तक किसी भी एटीएम से पैसे निकालने पर कोई चार्ज नहीं देना होगा। बैंक खातों में मिनिमम बैलेंस रखने की शर्त को भी खत्म कर दिया गया है। इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने और पैन-आधार लिंक करने की तारीख भी 30 जून तक बढ़ा दी गई है।

अमेरिका का सबसे बड़ा राहत पैकेज, कम कमाई वालों को मिलेंगे 90,000 हजार रुपए 

  • कोरोनावायरस के कारण अर्थव्यवस्था में आ रही गिरावट को थामने के लिए बुधवार को अमेरिका ने 2 लाख करोड़ डॉलर (करीब 151 लाख करोड़ रुपए) का राहत पैकेज जारी किया।
  • 25,000 करोड़ डॉलर का फंड ऐसे लोगों के लिए है, जिनकी नौकरी कोरोनावायरस के कारण चली गई या जिनका रोजगार प्रभावित हुआ। ऐसे लोगों तक सरकार सीधे चेक भेजेगी।
  • सालाना 75 हजार डॉलर या इससे कम ग्रॉस कमाई करने वाले व्यक्ति को 1200 डॉलर का सहयोग मिलेगा। मौजूदा दरों के अनुसार यह रकम भारतीय रुपए में 90 हजार के करीब होती है। वहीं, डेढ़ लाख डॉलर सालाना कमाई करने वाली दंपत्ति को 2400 डॉलर की मदद मिलेगी। साथ ही हर बच्चे के लिए 500 डॉलर अलग से मिलेंगे।
  • 35 हजार करोड़ डॉलर का इमरजेंसी लोन फंड अमेरिका की छोटी कंपनियों के लिए है, ताकि उनका बिजनेस बंद न हो।
  • 25 हजार करोड़ डॉलर का फंड एम्प्लॉयमेंट इंश्योरेंस बेनिफिट के तौर पर जारी किया जाएगा। 50 हजार करोड़ डॉलर का फंड संकटग्रस्त कंपनियों को लोन के तौर पर दिया जाएगा।
  • डील में एक विशेष प्रावधान भी है। इससे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प, उनके परिवार का कोई सदस्य, कांग्रेस का कोई सदस्य इस पैकेज की राशि से कोई लोन या निवेश हासिल नहीं कर पाएंगे। यह प्रावधान रकम के गलत इस्तेमाल को रोकने के लिए किया गया है।

Leave a Comment

icon

We'd like to notify you about the latest updates

You can unsubscribe from notifications anytime