UP 2-Child Policy Population Control Bill, UP Govt 3 PDF, जनसंख्या नियंत्रण विधेयक ड्राफ्ट, In Hindi

UP 2-Child Policy Population Control Bill

UP 2-Child Policy Population Control Bill/यूपी जनसंख्या नियंत्रण विधेयक 2021:- जनसंख्या विस्फोट उन प्रमुख मुद्दों की जड़ है, जिनसे आज दुनिया निपट रही है। दुनिया भर में जनसंख्या प्रति वर्ष 1.05% की दर से बढ़ रही है। भारत विश्व का दूसरा सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश है। इसलिए, जनसंख्या नियंत्रण का महत्व अब पहले से कहीं अधिक महत्वपूर्ण हो गया है। Uttar Pradesh Population, त्तर प्रदेश की जनसंख्या सरकार द्वारा जारी आंकड़े के मुताबिक 2012 में 20 करोड़ की थी| उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार ने राज्य में जनसंख्या नियंत्रण विधेयक ड्राफ्ट/Population Control Bill Draft, के मद्देनजर एक मसौदा प्रस्तावित किया है।

जैसा कि सर्वविदित है, यूपी हमारे देश में सबसे अधिक आबादी वाले राज्यों में से एक है। इस प्रकार, जनसंख्या नियंत्रण विधेयक राज्य के लिए जनसंख्या के लिए नए आंकड़े स्थापित करने की दिशा में एक बड़ा कदम है। बिल के तहत State Government Two Child Policy, UP 2-Child Policy, का प्रस्ताव कर रही है।

2-Child Policy Population Control Bill,”-यूपी जनसंख्या नियंत्रण विधेयक पर पूरी जानकारी की जाँच करें क्योंकि हम इस पोस्ट में प्रस्तावित विधेयक के तथ्यों और संभावनाओं को निर्धारित करते हैं। हम बिल के कुछ प्रमुख अंश और नए बिल से जुड़े लाभों को सूचीबद्ध कर रहे हैं। पाठकों को बिल पर नीतिगत सुझावों के बारे में भी जानकारी पोस्ट में मिलेगी।

Population of Uttar Pradesh under Aadhar Card Data

उत्तर प्रदेश सरकार के पुराने आंकड़ों के मुताबिक उत्तर प्रदेश की जनसंख्या जो कि 20.42 crores (2012) थी| लेकिन अभी तक संपूर्ण जनगणना ना होने के चलते उत्तर प्रदेश तथा अन्य राज्यों में रहने वाले भारतीयों का कोई आंकड़ा नहीं है| Population of UP under Aadhar Card Data, आज के डेट में आधार डाटा के मुताबिक उत्तर प्रदेश में देखा जाए तो यह जनसंख्या में { Aadhaar Saturation in 0 < 5 Years Age band 31st December, 2020- में Uttar Pradesh* 2,44,57,593 }इतनी वृद्धि हुई है|

List of 09 countries with the highest population 2021

#Country (or dependency)Population
(2020)
Yearly
Change
Net
Change
Density
(P/Km²)
Land Area
(Km²)
Migrants
(net)
Fert.
Rate
Med.
Age
Urban
Pop %
World
Share
1China1,439,323,7760.39 %5,540,0901539,388,211-348,3991.73861 %18.47 %
2India1,380,004,3850.99 %13,586,6314642,973,190-532,6872.22835 %17.70 %
3United States331,002,6510.59 %1,937,734369,147,420954,8061.83883 %4.25 %
4Indonesia273,523,6151.07 %2,898,0471511,811,570-98,9552.33056 %3.51 %
5Pakistan220,892,3402.00 %4,327,022287770,880-233,3793.62335 %2.83 %
6Brazil212,559,4170.72 %1,509,890258,358,14021,2001.73388 %2.73 %
7Nigeria206,139,5892.58 %5,175,990226910,770-60,0005.41852 %2.64 %
8Bangladesh164,689,3831.01 %1,643,2221,265130,170-369,5012.12839 %2.11 %
9Russia145,934,4620.04 %62,206916,376,870182,4561.84074 %1.87 %

2-Child Policy Population Control Bill UP-Highlights ✔️

💡 Article on✔️ जनसंख्या नियंत्रण विधेयक/Population control Bill
💡 Bill Proposed by✔️ State Government
💡 State✔️ Uttar Pradesh (UP)
💡 Heading Authority✔️ Uttar Pradesh State Law Commission (UPSLC)
💡 Bill proposed on✔️ 11 July 2021
💡 Last date of suggestion/ policy drafting✔️ 19 July 2021
💡 Official Website✔️ www.upslc.upsdc.gov.in

यूपी जनसंख्या नियंत्रण विधेयक/2-Child Policy Population Control

विश्व जनसंख्या दिवस, 11 जुलाई 2021 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने जनसंख्या नियंत्रण पर मसौदे का अनावरण किया। वर्तमान राज्य सरकार द्वारा प्रस्तावित उत्तर प्रदेश जनसंख्या (नियंत्रण, स्थिरीकरण और कल्याण) विधेयक, 2021 का मसौदा सुझावों के लिए खुला है। उत्तर प्रदेश राज्य विधि आयोग (UPSLC) 19 जुलाई 2021 तक मसौदे पर टिप्पणी मांग रहा है। (2-Child Policy Population Control) आयोग सभी सुझावों पर विचार करने के बाद मसौदे को राज्य सरकार को भेजेगा।

अधिकारियों द्वारा राज्य के भीतर संसाधनों की उपलब्धता को देखते हुए ऐसा निर्णय लिया गया है। साथ ही, बढ़ती आबादी के झटके के साथ-साथ निरक्षरता और गरीबी भी आती है। इस प्रकार, बेहतर विकास और सुविधाओं की पेशकश करने के लिए अधिकारियों द्वारा इस तरह के निर्णय को सर्वोत्कृष्ट माना जा रहा है।

🔥 UP Population Control Bill (2 Child Policy) 2021 🔥

इस बिल के लिए कई नियम बनाए गए हैं, UP Population Control Bill (2 Child Policy) जिनका पालन करना अनिवार्य है और इसकी पूरी जानकारी हमारे लेख में दी गई है, जो इस प्रकार है:-

  •   इस बिल के तहत अब राशन कार्ड की यूनिट 4 तय की गई है। यदि आप सरकारी कर्मचारी नहीं हैं और फिर भी आप इस नीति के सभी नियमों का पालन करते हैं तो आपको गृह कर, गृह ऋण, बिजली बिल आदि में छूट दी जाएगी। इस नीति का पालन करने के लिए आपको कई तरह के प्रोत्साहन भी दिए जाएंगे।
  •   जो लोग गरीबी रेखा से नीचे आते हैं और इस नीति का पालन करते हैं, उनके लिए आपको कई लाभ दिए जाते हैं। इसके तहत आपको बीमा कवरेज भी प्रदान किया जाएगा।
  •   UP Population Control Bill (2 Child Policy) साथ ही आपको एक स्वास्थ्य सुविधा भी नि:शुल्क उपलब्ध कराई जाएगी। अगर आप डीए या हाउसिंग बोर्ड के जरिए कोई जमीन या कोई भवन खरीदते हैं तो आपको सब्सिडी भी दी जाएगी।
  •   अगर आप बीपीएल में आते हैं तो भी आपको इसके तहत आकर्षक प्रोत्साहन दिया जाता है।
  •   सरकारी नौकरी करने वाली महिलाओं को मातृत्व अवकाश दिया जाता है, जो 12 महीने के लिए दिया जाता है और छुट्टी के समय भी आपको पूरा वेतन दिया जाता है।
  •   अगर आपको किसी कंस्ट्रक्शन के लिए सॉफ्ट लोन चाहिए तो वह भी कम रेट पर आपको मिल जाता है। यदि आपके केवल एक बच्चा है और आप शीर्ष रेखा से नीचे आते हैं, तो आपको प्रोत्साहन राशि भी दी जाती है।
  •   इस बिल के तहत आपको कर्मचारी निधि अंशदान द्वारा पेंशन पॉलिसी में 3% की वृद्धि दी जाएगी।
  •   यदि आपकी एक बेटी है तो आपको इस पॉलिसी के माध्यम से 1,00,000/- रुपये की एकमुश्त राशि दी जाएगी। यदि आपका कोई बेटा है तो आपको इस पॉलिसी के माध्यम से 80,000/- रुपये की एकमुश्त राशि दी जाएगी।

CM Yogi’s UP population control bill 2021-UP 2 Child Policy Draft 2021 in Hindi

UP 2 Child Policy Draft 2021 in Hindi,-यूपी 2 चाइल्ड पॉलिसी ड्राफ्ट 2021 यह नीति यूपी सरकार द्वारा 19 जुलाई 2021 को जारी की जाएगी, जिसके लिए अभी कुछ संशोधन किए जाने बाकी हैं और हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे, जो इस प्रकार हैं:-

  • ✔️ एक दंपत्ति को 1 जनवरी 2021 को एक बच्चा होता है और उसके बाद अगर वे दो और बच्चों को जन्म देते हैं तो यह किसी भी तरह के नियम के खिलाफ नहीं होगा।
  • ✔️ अगर 1 जनवरी 221 को आपका बच्चा है और 1 जनवरी 2023 तक आपका दूसरा बच्चा है, तो वे भी इस बिल के खिलाफ नहीं हैं।
  • ✔️ CM Yogi’s UP population control bill, यदि आप विवाहित हैं और आपके कोई बच्चे नहीं हैं लेकिन आपने अपने दो से अधिक बच्चों को गोद लिया है तो आप इस उल्लंघन के खिलाफ हैं।
  • ✔️ 1 जनवरी 2021 की गर्भावस्था में एक विवाहित जोड़े के दो बच्चे हैं और 1 जनवरी 2023 की दूसरी गर्भावस्था में आपके दो और बच्चे हैं, तो यह पूरी तरह से इस नीति के विरुद्ध है।
  • ✔️ अगर आपके दो बच्चे हैं और आपने अपने एक बच्चे को गोद लिया है, तो आप इस नीति के खिलाफ नहीं हैं।
  • ✔️UP 2 Child Policy Draft 2021, यदि आपके पहले से ही दो बच्चे हैं लेकिन आपने अपने दो बच्चों को गोद लिया है तो आप इस 2 बच्चे की नीति के पूरी तरह खिलाफ हैं।

😂 UP Two Child Policy Benefits/टू चाइल्ड पॉलिसी के लाभ 😂

जनसंख्या नियंत्रण विधेयक भारत की लगातार बढ़ती जनसंख्या को ध्यान में रखते हुए एक महत्वपूर्ण विधेयक है। नीति निर्माताओं ने राज्य के नागरिकों को UP Two Child Policy Benefits, भरपूर लाभ के साथ बिल तैयार किया है।

  • बिल के नियमों का पालन करते हुए माता-पिता को दो विशेष सेवा वेतन वृद्धि की पेशकश की जाएगी।
  • नियमों का पालन करने वाले सभी यूपी सरकार के कर्मचारियों को 12 महीने के मातृत्व / पितृत्व अवकाश की पेशकश की जाएगी।
  • इस तरह के किसी भी जनसंख्या मसौदे को यदि अधिनियम में पेश किया जाता है तो मानव विकास सूचकांक में सुधार करने में मदद मिलेगी।
  • दीर्घकाल में ऐसी नीति से राज्य के लोगों को आर्थिक लाभ और पर्याप्त संसाधन भी उपलब्ध होंगे।
  • इस तरह की जनसंख्या नियंत्रण नीति करदाता के पैसे का मूल्य प्रदान करती है जिसे अक्सर उफफेयर तरीके से वितरित किया जाता है।

UP Population Control Bill- Important Links

UPSLC Official Websitehttp://www.upslc.upsdc.gov.in/
Official UP Population Control Bill PdfCheck Here

UP Population Control Bill 2021, Yogi Govt’s 2 Child Policy – Current Affairs for Uttar Pradesh PCS

Frequently Asked Questions

UP Population Control Bill/यूपी जनसंख्या नियंत्रण विधेयक क्या है?

यह राज्य की वर्तमान सरकार द्वारा राज्य में दो बच्चे की नीति को बढ़ावा देने के लिए प्रस्तावित एक विधेयक है। इस प्रकार, अत्यधिक जनसंख्या वृद्धि को नियंत्रित करना। UP Population Control Bill, विधेयक के तहत, दो से अधिक बच्चों वाले नागरिकों को विभिन्न नीतियों, योजनाओं और अन्य समावेशी लाभों के लिए विचार किया जाना है।

उत्तर प्रदेश में जनसंख्या नियंत्रण विधेयक का क्या महत्व है?

उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में, ऐसे किसी भी विधेयक का महत्व पहले से कहीं अधिक महत्वपूर्ण है। 2012 की जनगणना के अनुसार राज्य की जनसंख्या 20.42 करोड़ है जो अब लगभग 24.1 करोड़ है। यह भारत में सबसे घनी आबादी वाले राज्यों में से एक है। इस प्रकार, संसाधनों और बुनियादी सुविधाओं का उचित वितरण सुनिश्चित करने के लिए जनसंख्या को नियंत्रित करना एक आवश्यक कदम है।

उत्तर प्रदेश राज्य में दो संतान नीति कब लागू होगी?

बिल के स्वीकृत होते ही नीति लागू हो जाएगी और मौजूदा बिल में बुनियादी संशोधन किए जाएंगे। अधिनियम में विधेयक के सफल गठन पर, अधिनियम के प्रवर्तन पर विवरण भी नागरिकों को प्रदान किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के जनसंख्या नियंत्रण विधेयक के संबंध में इस पोस्ट पर सुझाव देने वाले पाठकों का कमेंट बॉक्स में स्वागत है।

Leave a Comment